ओजोन लेयर क्या है ? और यह हमारी मदद कैसे करती है ?

Ozone Layer  पृथ्वी के वायुमंडल का एक हिस्सा है जिसमें ओज़ोन गैस की अपेक्षाकृत उच्च सांद्रता है, जो रासायनिक सूत्र O3 के साथ एक अकार्बनिक Atom है। Ozone  एक तीखी (Chlorine  जैसी) गंध वाली नीली गैस है।

Ozone के महत्व को इस तथ्य से परिभाषित किया जाता है कि यह सूर्य से  आने वाली  हानिकारक पराबैंगनी किरणों से पृथ्वी की रक्षा करता है। देखा जाए तो यह हमारे लिए Sunscreen के समान है  जो हमारी धूप के हानिकारक प्रभावों से रक्षा करती है |

Ozone परत समताप मंडल के ऊपरी क्षेत्रों में पाई जाती है जहां यह सूर्य की हानिकारक पराबैंगनी किरणों (Ultraviolet Radiation ) से पृथ्वी की रक्षा करती है। ये विकिरण मनुष्यों में त्वचा कैंसर का कारण बन सकते हैं। पराबैंगनी किरणें  (Ultraviolet Radiation ) | Ozone Layer  पृथ्वी की सतह से 12-15 मील की दूरी पर स्थित है। वातावरण में Ozone परत भूमध्य रेखा (Equator )  की तुलना में ध्रुवों (Poles ) पर अधिक मोटी है।

Ozone परत की खोज किसने की थी ? (Who invented Ozone Layer ? )

Ozone परत की खोज 1913 में French Physicists Charles Fabri और  Henri Bisson ने की थी। इससे पहले भी, जब वैज्ञानिकों ने सूर्य से आने वाले spectrum of light को देखा, तो उन्होंने पाया कि इसमें कुछ गहरे रंग के क्षेत्र थे और 310 nm  से कम wavelength  का कोई विकिरण सूर्य से पृथ्वी पर नहीं आ रहा था। वैज्ञानिकों ने यह निष्कर्ष निकाला कि कुछ तत्व आवश्यक ultraviolet rays  को अवशोषित कर रहे हैं,और  spectrum  में एक काला क्षेत्र बना रहे हैं और ultraviolet part  में कोई Rays  दिखाई नहीं दे रहा है।

सूर्य से नहीं दिखाई देने वाले spectrum of light  का हिस्सा पूरी तरह से Ozone  नामक तत्व से मेल खाता था, जिससे Scientist को पता चला कि पृथ्वी के वायुमंडल में Ozone ही  वह तत्व है जो ultraviolet rays   को अवशोषित करता है। । इसके गुणों का UK meteorologist GMB Dobson  द्वारा विस्तार से अध्ययन किया गया। उन्होंने एक सरल spectrophotometer  विकसित किया जो जमीन से stratospheric ozone  को माप सकता है।

Ozone कैसे बनाया जाता है?

जब सूर्य की किरणें ऑक्सीजन (Oxygen ) के अणुओं को एकल परमाणुओं (Single Atoms) में विभाजित करती हैं, तो वातावरण में Ozone का निर्माण होता है। ये एकल परमाणु पास के ऑक्सीजन के साथ मिलकर तीन ऑक्सीजन अणु (Atom )  बनाते हैं  जिसे Ozone कहा जाता है ।

Ozone  की तैयारी

यह ऑक्सीजन  (Oxygen ) का एक   Allotropic Form है जो  नम विद्युत प्रवाह के माध्यम से Dry Oxygen  को पारित करके बनता है। ऐसा करने से ऑक्सीजन के Atom का एक हिस्सा Dissociation  से गुजरता है और फिर Oxygen Molecule  , ऑक्सीजन अणु के साथ जुड़कर ऑक्सीजन के Allotropic Form  का 5% -10% देता है। प्राप्त उत्पाद को Ozonized Oxygen   कहा जाता है।

O2 – → −−− ऊर्जा O + O

O2 + O → O3

3O2 ↔  2O3 – ऊर्जा (Endothermic Reaction )

Ozone  अस्थिर है और Molecular Oxygen  को विघटित करता है। Ozone के निर्माण और Decomposition  के बीच एक गतिशील संतुलन बना रहता है। यह पाया गया है कि CFC (Chlorofluorocarbon)  यौगिकों की उपस्थिति के कारण यह सुरक्षात्मक Ozone परत नष्ट  हो रही है।

जब CFC को वायुमंडल में छोड़ा जाता है, तो वे वायुमंडलीय गैसों के साथ मिश्रित होकर समताप मंडल (Stratosphere )  में पहुंच जाते हैं। पराबैंगनी किरणों (Ultraviolet Rays  )की उपस्थिति में, वे Chlorine Radical  बनाने के लिए टूट जाते हैं। यह Chlorine Radical   Ozone के साथ Chlorine Monoxide और एक  Oxygen Molecule बनाने के लिए प्रतिक्रिया करता है।

CF2Cl2 (G) – → Cl Uv Cl (G) + CF2Cl (G) (नोट: Cl , Radical  के रूप में है)

Cl (G) + O3 (G) → Clo (G) + O2 (G)

यह प्रतिक्रिया Ozone को तोड़ती है। CFC  यौगिक ऐसे एजेंट होते हैं जो वायुमंडल में क्लोरीन रेडिकल को छोड़ते हैं और Ozone परत को नुकसान पहुंचाते हैं।

Ozone संरचना (Ozone Structure ) :

Ozone एक ध्रुवीय अणु (polar molecule )  है और इसे समझने के लिए हमें Ozone की संरचना पर एक नजर डालनी होगी। Ozone Structure दो भागो में विभाजित होता है |

मध्य ऑक्सीजन परमाणु में +1 का एक formal charge  होता है और किनारे पर परमाणु का formal charge  -1 होता है। light charges  के पृथक्करण और इसकी bent geometry  के कारण, इसमें polarity  होती है और इसे polar molecular  माना जाता है।

Ozone के गुण (Properties of ozone ):

इसकी शुद्ध अवस्था में Ozone नीले रंग की होती है, जिसमें तेज गंध होती है लेकिन इसके साथ ही इसमें एक सीमा तक एक सुखद गंध होती है।

इसमें ultraviolet region  पर पाई जाने वाली  UV Rays  को अवशोषित करने की क्षमता होती  है जो atmospheric spectrum   के 220-290 nm के बीच होती है।

ऑक्सीजन का यह रूप 161.2K पर उबलता है और जमने पर बैंगनी-नीले क्रिस्टल बनाता है। यह 80.6k पर पिघलता है।

यह allotrope  एक मजबूत oxidizing agent  है क्योंकि Ozone सामान्य परिस्थितियों में एक अस्थिर यौगिक (unstable compound  ) है और यह ऑक्सीजन और अणु बनाने के लिए गर्मी की उपस्थिति में जल्दी से विघटित होता है।

Ozone परत का महत्व (Importance of the ozone layer )

Ozone जमीनी स्तर पर हानिकारक है, लेकिन वायुमंडल में उच्च Ozone परत सभी जीवित प्राणियों की सुरक्षा में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। सूर्य पराबैंगनी विकिरणों (ultraviolet radiations ) का प्रसार करता है जो जीवित प्राणियों पर प्रतिकूल प्रभाव डालता  है। यह परत UV Rays  को अवशोषित करती है और उन्हें पृथ्वी की बाहरी सतह में प्रवेश करने से रोकती है। Ozone परत पृथ्वी के वायुमंडल की समताप मंडल परत (stratospheric layer ) में मौजूद होती  है। वायुमंडल के निचले हिस्से में व्याप्त परतें अवांछित प्रदूषकों को पृथ्वी की सतह से हटा देती हैं।

Ozone परत रिक्तीकरण (Ozone layer depletion ):

Ozone Layer के नष्ट होने का कारण मुख्य रूप से Ozone-घटने वाले पदार्थों (ODS – ozone-depleting substances ) के व्यापक उपयोग के कारण है। कुछ Ozone- depleting  पदार्थ हैं:

 (Chlorofluorocarbons (CFC):

CFC का उपयोग Ozone Layer  के नष्ट होने  के मुख्य कारणों में से एक है। वे आमतौर पर refrigerators और कारों के air conditioners में शीतलक (coolant )  के रूप में उपयोग किए जाते हैं। इसका उपयोग औद्योगिक विलायक (industrial solvent), फोम उत्पादों (, foam products )और hospital sterilization equipment  के रूप में भी किया जाता है।  

मिथाइल क्लोरोफॉर्म (Methyl chloroform ):

इसका उपयोग अधिकतर उद्योगों में  chemical processing  आदि के लिए किया जाता  है।

कार्बन टेट्राक्लोराइड (Carbon tetrachloride ):

आम तौर पर एक विलायक (solvent ) के रूप में इस्तेमाल किया जाता है।

Ozone Layerके ह्रास  के लिए कौन जिम्मेदार है (Who is responsible for the depletion of the ozone layer )

Ozone  की कमी के लिए कौन जिम्मेदार है यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण विषय है |

Ozone Layer  के  नष्ट होने  के लिए मनुष्यों द्वारा चलाये जा रहे उद्योग  जिम्मेदार है, जो अमेरिका, चीन, भारत और यूरोप सहित लगभग सभी प्रमुख देशों में मौजूद हैं, मुख्य रूप से Ozone Layerको नुकसान पहुंचाने वाले Chemical  हो बढ़ते  प्रदूषण के कारण हैं । वैसे कई देशों में इस समस्या को देखते हुए Ozone Layerको नुकसान पहुंचाने वाले Chemical  के उपयोग पर प्रतिबंध लगा दिया है |  बढ़ते प्रदुषण के कारण Ozone Layer में अंटार्कटिका में एक छेद हो गया है | जिससे UV Rays धरती पर आ रही है |

Ozone Layer को कैसे बचाया जा सकता है –

Ozone Layerको नुकसान से बचाने के लिए, आम जनता को इसके बारे में शिक्षित किया जाना चाहिए और उन्हें उन उद्योगों पर नियंत्रण लगाना चाहिए  जो प्रदूषण का कारण बन रहे हैं  और Ozone Layer की सुरक्षा के लिए Air Conditioner , वाहनों का उपयोग भी कम होना चाहिए ताकि Ozone Layerको बचाया जा सके।

ओजोन दिवस कब मनाया जाता है? (When is Ozone Day celebrated? Ozone day Hindi )

Ozone Layerके महत्व को देखते हुए, संयुक्त राष्ट्र की महासभा (General Assembly of the United Nations )  ने 16 सितंबर के दिन को अंतर्राष्ट्रीय ओजोन दिवस (International Ozone Day  )के रूप में मनाने का निर्णय लिया है।

2 thoughts on “ओजोन लेयर क्या है ? और यह हमारी मदद कैसे करती है ?

  • January 4, 2021 at 8:15 am
    Permalink

    nice effort good knowledge

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *